वामपंथी उग्रवाद की प्रतिनिधि ‘माले’ को बिहार में आरजेडी का खुला समर्थन- भूपेंद्र यादव

भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव और बिहार प्रभारी भूपेंद्र यादव (भूपेंद्र यादव) ने कहा है कि गैर-कांग्रेसवाद का झंडा बुलंद है लालू प्रसाद यादव (लालू यादव) राजनीति में आया, उनकी पार्टी आरजेडी उसी कांग्रेस को कंधे पर बिठाकर घूम रही है।

भूपेंद्र यादव ने कहा कि अब तो आरजेडी के गलियारे से वामपंथी उग्रवाद की राजनीतिक प्रतिनिधित्व ‘माले’ भी दबे पांव बिहार की राजनीति में घुसने की फिराक में हैं और उसे आरजेडी का खुला समर्थन हासिल है।

बीजेपी के राष्ट्रीय महासचिव ने बिहार चुनाव से जुड़ी जानकारी समर्थकों तक पहुंचाने के लिए दी लिखें लिखना शुरू कर दिया है। उन्होंने इस डि में लिखा है, “वह दौर कोई नहीं भूल सकता है जब बिहार के आरा, बक्सर, और आंध्र जैसे कई जिले वामपंथी उग्रवाद की चपेट में थे। लोग शाम ढलने के बाद सड़कों पर निकलने से घबराते थे।

वर्तमान का बिहार शांति व समृद्धि की जिस राह पर चल रहा है, उसके पीछे बीजेपी-ज़ीयू की एनडीए सरकार की मजबूत इच्छाशक्ति है। ”

भूपेंद्र यादव ने कहा कि एक दौर था जब बिहार के चौक-चौराहों, गांव-गिरांव की गलियों में वर्गीय संघर्ष के नारे गूंज थे। चुनाव हिंसा व संघर्ष की चपेट में आए बिना पूरे नहीं थे। लेकिन अब बिहार में शांति व खुशहाली का दौर है और बिहार संघर्ष की उस परिस्थिति से बाहर निकलकर प्रगति कर रहा है।

बीजेपी के राष्ट्रीय महासचिव ने कहा, “बिहार की जनता ने पूरी तरह से तय कर लिया है कि इस चुनाव में स्वस्थ लोकतंत्र, शांति व्यवस्था और बिहार की समृद्धि की गति को निरंतरता को जारी रखने के लिए आरजेडी-कांग्रेस और ‘माले’ के अपवित्र हैं। गठबंधन को हराना है और एकबार फिर एनडीए की मजबूत सरकार लाना है।